breaking news New

बस्तर दशहरा महोत्सव में शामिल होने मांझी-मुखियाओं को दी जायेगी विदाई

 बस्तर दशहरा महोत्सव में शामिल होने मांझी-मुखियाओं को दी जायेगी विदाई

कोण्डागांव, 12 सितंबर। विश्व प्रसिद्ध बस्तर दशहरे में कोण्डागांव जिले से शामिल होने वाले मांझीए मुखियाओं गायता चालकी पुजारी पटेल की आवश्यक बैठक जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम की अध्यक्षता में रखी गई थी। बैठक में जानकारी दी गई कि पूरे बस्तर संभाग में कोण्डागांव जिले के सर्वाधिक ग्रामीण अपने देवी.देवताओं के साथ बस्तर दशहरा में शामिल होते हैए जिनकी संख्या लगभग 4 हजार तक पहुंच जाती है। पूर्व में सभी ग्रामीण अन्य कोई व्यवस्था नहीं होने के कारण पैदल ही रवाना होकर अपनी परम्परा को निभाते चले आ रहे है। इसके मद्देनजर जिला कलेक्टर ने बताया कि बस्तर दशहरा की ऐतिहासिकता और भव्यता को देखतेे हुए इस बार भी जिले के मांझी मुखियाओं गायता चालकी पुजारी एवं पटेलो के लिए जिला प्रशासन द्वारा विशेष व्यवस्था की जायेंगी। इनमें ग्रामीणों के लिए जाने के लिए वाहन की व्यवस्था करने के साथ.साथए जगदलपुर में एक ही जगह रुकनेए भोजन इत्यादि की व्यवस्था के लिए विशेष टीम तैनात रहेगी। इसके पूर्व 6 अक्टूबर को मुख्यालय के स्थानीय शीतला मंदिर में सभी ग्राम प्रमुखोंए मांझीए मुखियाओं को एकत्रित होने के लिए निर्देशित कर दिया गया है जहां से सभी देवी.देवताओं और ग्रामीणों को धार्मिक जत्थे के रुप में कलश यात्रा निकालकर भव्य विदाई दी जायेगी। ज्ञात हो कि 01 अगस्त से प्रसिद्ध बस्तर दशहरा महोत्सव की पूरे विधि.विधान से शुरुवात हो चुकी है। इसके साथ ही विभिन्न धार्मिक एवं ऐतिहासिक रस्म और रिवाज जैसे . डेरी गड़ाईए काछनगादी पूजाए कलश स्थापना और जोगी बिठाईए प्रतिदिन नवरात्र पूजा विधान एवं रथ परिक्रमा तथा बेल पूजाए महाअष्टमी पूजा विधान व निशा जात्रा कुंवारी पूजा  जोगी उठाई और मावली परघावए भीतर रैनी और रथ परिक्रमाएं बाहर रैनी और रथ परिक्रमा काछन जात्रा व मुरिया दरबार कुटुम्ब जात्रा और मावली मां की विदाई आदि परम्पराओं का पालन किया जायेगा। बैठक में ग्राम प्रमुख मांझीए मुखियाओं ने बताया कि बस्तर दशहरा के प्रति आस्था और श्रद्धा के चलते ग्राम पंचायतो के प्रत्येक घरो से 5 रुपये एवं कुछ मात्रा में चावल सामग्री भी जुटाई जायेगी यद्यपि यह संकलन स्वेच्छापूर्वक ही रहेगा। इस मौके पर सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जीएस सोरी सामाजिक कार्यकर्ता मन्हेर कोर्राम सहित जिले के प्रमुख मांझी मुखिया गायता चालकी पुजारी पटेल उपस्थित थे।