breaking news New

सरकार ने देश में बैन की पॉप्युलर फाइल शेयरिंग WeTransfer.com वेबसाइट

सरकार ने देश में बैन की पॉप्युलर फाइल शेयरिंग WeTransfer.com वेबसाइट


नई दिल्ली। भारत सरकार के दूरसंचार विभाग ने (डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकम्युनिकेशंस) पॉप्युलर फाइल-शेयरिंग वेबसाइट WeTransfer.com को बैन कर दिया है। सरकार का कहना है कि देश और जनता के हितों को ध्यान में रखकर वेबसाइट को बैन किया गया है।

 एक रिपोर्ट के मुताबिक, डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकम्युनिकेशंस (DoT) देश में तीन RL को बैन करने के लिए इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स को नोटिस जारी किया है। पहले दो नोटिस में वेबसाइट पर दो चुनिंदा यूआरएल को बैन करने के लिए कहा गया था जबकि तीसरे नोटिस में पूरी WeTransfer.com वेबसाइट को ही बैन करने का आदेश दिया गया।

मुफ्त शेयर की जा सकती है वेबसाइट

WeTransfer.com फाइल शेयरिंग के लिए एक पॉप्युलर वेबसाइट है। दुनियाभर में लाखों लोग इस वेबसाइट को इस्तेमाल करते हैं और लॉकडाउन के दौरान भारत में इस वेबसाइट के यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ी। वेबसाइट से 2 जीबी तक की फाइल्स सीधे ईमेल में भेजी जा सकती है। वेबसाइट के पेड प्लान लेने पर यूजर्स हाई रेजॉलूशन और साइज़ की फाइल भेज सकते हैं। अधिकतर लोग इसके फ्री प्लान का ही इस्तेमाल करते हैं। इस वेबसाइट को इस्तेमाल करना आसान है और यह भी एक कारण है जिसके चलते देश में तेजी से इसकी लोकप्रियता बढ़ी। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि सरकार ने वीट्रांसफर को बैन क्यों किया है। लेकिन फिलहाल अधिकतर बड़े इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स ने अपने यूजर्स के लिए WeTransfer.com को बैन कर दिया है।

बता दें कि भारत में वेबसाइट बैन करना कोई नई बात नहीं है, इससे पहले भी कई वेबसाइट बैन हो चुकी हैं। लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान मिनस्ट्री ऑफ इन्फर्मेशन ऐंड टेक्नॉलजी ने जानकारी दी थी कि देश में ब्लॉक किए जाने वाले RL में 442 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई। इनमें से अधिकतर यूआरएल मैलवेयर और पोर्नोग्राफी को बढ़ावा देने या राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा थे।